Motivational Story in Hindi #1: जिद्दी बन्दर की कहानी

Here you can check Motivational Story in Hindi and get Motivated in life.

Motivational Story #1:

जिद्दी बन्दर की कहानी :

यहां आप मोटिवेशनल स्टोरी पढ़ सकते हैं और जीवन में मोटिवेट हो सकते हैं।

प्रेरक कहानी #1:

एक आदमी ने अपने बच्चे से पूछता है "क्या तुम जानते हो कि पुराने जमाने के शिकारी बंदरों को कैसे फंसाते थे?" 

“पेड़ों पर उनका पीछा करने या नीचे से उन पर तीर चलाने के बजाय, शिकारी फर्श पर एक संकीर्ण गले वाला एक भारी कांच का जार रख देते थे, जिसमें बंदरों का पसंदीदा भोजन होता था।

फिर वे छुप कर बैठ जाते थे और बन्दर के आने की प्रतीक्षा करते थे।

कुछ समय बाद जब कोई बंदर पहुंच जाता और उस भोजन को पकड़कर उसे जार से बाहर निकालने की कोशिश करता। हालाँकि, जार की संकरी गर्दन के कारण वह उस खाने को निकल नहीं पता था | 

बन्दर अपने हाथ को खींचता और खींचता, लेकिन कोई फायदा नहीं होता था। भोजन को छोड़े बिना जार से हाथ निकालने का कोई रास्ता नहीं था।

हालांकि, हर मानने के बजाय, बंदर अपना खाना छोड़ने से इनकार करते हुए लगातार प्रयास करते रहते थे | 

फिर शिकारी उसके पास आ जाते और उसे पकड़ लेते। ”

आदमी ने अपने बेटे को समझाया :

"उस बंदर की तरह मत बनो, जीवन में, एक और दिन लड़ने के लिए और आगे बढ़ने के लिए, आपको पता होना चाहिए कि कब छोड़ना है, कब आगे बढ़ना है, और जो कुछ भी आपको रोक रहा है उसे कब जाने देना है। "

 

कहानी की शिक्षा:

भविष्य में कुछ बेहतर प्राप्त करने के लिए कभी-कभी आपको जाने देना पड़ता है और जो आपके पास अभी है उसे छोड़ना पड़ता है। हमें अपनी जिद को अपना पतन नहीं बनने देना होता | मुश्किल चीज़ को भी अगर सही तरीके से किया जाए तो वो आसान बन जाती है | अगर हम किसी कार्य में सफल नहीं हो पा रहे हैं तो हमे अपना तरीका बदलने की जरुरत है | 


Motivational Story in Hindi #1: जिद्दी बन्दर की कहानी 

Motivational Story in Hindi #2: आलस्य से जीवन में कुछ हासिल नहीं होता  

Motivational Story #3: शिकायत करने में अपना समय बर्बाद न करें 

Motivational Story #4: The Hope Experiment - जीवन में आशा का महत्व

Motivational Story #5: जब Karoly Takacs ने उलटे हाथ से ओलंपिक स्वर्ण जीता